एकता में शक्ति है :- (Short Moral Stories In Hindi )

 एकता में शक्ति है:- (Moral Stories In Hindi )


Short Moral Story In Hindi for kids 


एक गाँव में एक किसान रहता था , उसके पांच बेटे थे.  वो सब स्वस्थ ,हष्ट पुष्ट और कठिन परिश्रम करने वाले थे लेकिन वो आपस हमेशा झगड़ते रहते थे . कभी कभी तो वो आपस में लड़ जाते थे . 
किसान ये सब देखकर बहुत दुखी होता था वो चाहता था की उसके सभी बेटे शांति पूर्वक सुखमय जीवन व्यतीत करें . वो उनको बहुत समझाता और डांटता थे लेकिन उन पर कोई प्रभाव न पड़ता 
किसान हमेशा अपने बेटों को संगठित करने के बारे में सोचता रहता था ,और एक दिनन उसे उसकी समस्या का उत्तर मिल ही गया . 
उसने अपने सभी बेटों को एक साथ बुलाया . और उनको छोटी छोटी बेतों  से बंधा एक लकड़ी का गठ्ठर दिखाया और कहा ” मैं चाहता हूँ की आपमें से कोई इस गठ्ठर से बिना कोई बेंत निकाले तोड़े ” 
उसके सभी बेटों ने बारी बारी से उस गठ्ठर को तोड़ने का प्रयत्न किया लेकिन कोई सफल न हो सका 
फिर उस किसान ने उस गठ्ठर से एक एक बेंत निकालकर अपने बेटों को दी ,जिसको उन्होंने आसानी से तोड़ दिया 
तब उस किसान ने अपने बेटों को समझाया ” देखों जब मैंने आप लोगों को गठ्ठर तोड़ने के लिए कहा तो आप ल्लोग नही तोड़ पाए क्योंकि वो सब संगठित थी लेकिनं जैसे ही उनको अलग अलग किया आप लोगों ने आसानी से तोड़ दिया ,
ठीक इसी प्रकार यदि आप सब संगठित रहोगे तो कोई भी परेशानी आपको तोड़ नही सकती लेकिन अगर अलग अलग रहोगे ,हमेशा झगड़ते रहोगे तो तुम्हे कोई भी परेशानी तोड़ देगी “
Moral of this story :-
 एकता में अटूट शक्ति होती है  
  

0 thoughts on “एकता में शक्ति है :- (Short Moral Stories In Hindi )”

Leave a Comment